सूर्य ग्रहण-2019: -> 2 जुलाई है साल का दूसरा सूर्य ग्रहण , जानें भारत में क्या होगा असर !

www.astroyog.org

खण्डग्रास सूर्यग्रहण 2 जुलाई, मंगलवार को है।  जब चन्द्रमा, पृथ्वी और सूर्य के मध्य से होकर गुजरता है और पृथ्वी से देखने पर सूर्य पूर्ण या आंशिक रूप से ढक जाता है, तब सूर्यग्रहण लगता है । हालांकि यह सूर्यग्रहण भारत में अदृश्य है। नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) की मानें तो 2 जुलाई को लगने वाला सूर्य ग्रहण 4 घंटे 33 सेकंड तक चलेगा।

भारत में दिखेगा कि नहीं

भारत में नहीं दिखने का कारण है कि सूर्य ग्रहण 11 बजकर 31 मिनट से 2 बजकर 15 मिनट तक लगेगा और इस वक्त में भारत में रात होगी।

क्या है सूर्य ग्रहण

किसी खगोलीय पिण्ड का पूर्ण अथवा आंशिक रुप से किसी अन्य पिण्ड से ढक जाना या पीछे आ जाना ग्रहण कहलाता है। जब कोई खगोलीय पिण्ड किसी अन्य पिण्ड द्वारा बाधित होकर नजर नहीं आता, तब ग्रहण होता है। सूर्य प्रकाश पिण्ड है, जिसके चारों ओर ग्रह घूम रहे है। अपनी कक्षाओं में घूमते हुए जब तीन खगोलीय पिण्ड एक रेखा में आ जाते है। तब ग्रहण होता है।

सूर्य ग्रहण तब होता है, जब सूर्य आंशिक अथवा पूर्ण रुप से चन्द्रमा द्वारा आवृ्त हो जाए। इस प्रकार के ग्रहण के लिये चन्दमा का प्रथ्वी और सूर्य के बीच आना आवश्यक है। इससे पृ्थ्वी पर रहने वाले लोगों को सूर्य का आवृ्त भाग नहीं दिखाई देता है।

आपको बता दें कि पहला सूर्य ग्रहण 6 जनवरी में पड़ा था। भारतीय समयानुसार शाम 5:04 बजे से रात के 9:18 बजे तक रहेगा। इसकी अवधि 4 घंटे 14 मिनट होगी।

तीसरा सूर्य ग्रहण

साल 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण दिसंबर पर पड़ेगा। साल का तीसरा सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर 2019 को लगने वाला है। यह सूर्य ग्रहण वलयाकार होगा। सुबह 08:17 से 10:57 बजे तक रहेगा। चुकी यह भारत में दिखेगा, इसलिए इसका सूतक भी लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *